Skip to main content
Nitish Verma Talk Show

Nitish Verma Talk Show

By NITISH VERMA
Nitish Verma is an online entrepreneur, Digital Marketer, Podcaster, Author and content Creator from Darbhanga Bihar. Who delivers consistent value through Blogs, Videos, and Podcasts. He also trains professionals with his coaching, mentoring & consulting programs. The Nitish Verma talk show is a Hindi podcast. Where you can listen to Hindi podcasts on blogging, digital marketing, latest technology. Blog: https://www.nitishverma.com/ Hindi Tech Blog: https://technicalmitra.com/ नीतीश वर्मा टॉक शो एक हिंदी पॉडकास्ट है। जहाँ आप ब्लॉगिंग, डिजिटल मार्केटिंग और टेक्नोलॉजी पर पॉडकास्ट सुनेंगे।
Listen on
Where to listen
Castbox Logo

Castbox

Google Podcasts Logo

Google Podcasts

RadioPublic Logo

RadioPublic

Spotify Logo

Spotify

Stitcher Logo

Stitcher

Currently playing episode

Blogging Kya Hai?

Nitish Verma Talk Show

1x
Great enthusiasm among policy holders to invest money in LIC IPO, Full Subscribe till 12:30 pm
LIC IPO Subscription Status: The country's largest LIC IPO is getting a strong response from retail investors. Especially the excellent figures of the policy holders category have come to the fore. By 12.30 pm on the first day, the LIC policy holder category has become more than 100% subscribed, that is, completely filled. LIC IPO Review, Price, Analysis, Date | LIC IPO की जानकारी Apart from this, the reserve quota for LIC employees has also become more than 50 percent subscribed till 12.30 pm. At the same time, the share of NII is only 0.06 percent. Overall, LIC IPO has been subscribed about 31 percent till 12 noon of the first day. However, in this IPO, investors will be able to apply in IPO from today till May 9. Most applications in the insurance holder category There are many reasons behind the enthusiasm among LIC policy holders and LIC employees regarding this IPO. To make this IPO a hit, the government has given a reservation of 10 percent in the policy holder category. Also, a discount of Rs 60 per share is being given. At the same time, LIC employees are getting a discount of Rs 45 per share in this IPO.
04:33
May 05, 2022
RBI Card tokenisation: What is tokenization and what are RBI guidelines
रिजर्व बैंक की नई टोकनाइजेशन पेमेंट प्रणाली क्या है और कैसे करेगी काम? यूटिलिटी डेस्क. डेबिट और क्रेडिट कार्ड से लेनदेन को सुरक्षित करने के लिए रिजर्व बैंक ने नई व्यवस्था शुरू करने के दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। इस व्यवस्था को टोकनाइजेशन (टोकन व्यवस्था) के नाम से जाना जाएगा। इसके लागू होने पर पेमेंट कंपनियां थर्ड पार्टी के साथ मिलकर अपने ग्राहकों की सुरक्षा के लिए टोकन जारी कर सकेंगी। लगातार बढ़ रहे कार्ड फ्रॉड की घटनाओं को देखते हुए आरबीआई ने यह गाइडलाइन तय की है। Post Link: https://technicalmitra.com/rbi-card-tokenisation-kya-hai/ 1) क्या है यह व्यवस्था टोकन सिस्टम के तहत ग्राहक के कार्ड की वास्तविक डिटेल्स को एक विशेष कोड (टोकन) में बदल दिया जाएगा। इस टोकन का इस्तेमाल करके ग्राहक किसी थर्ड पार्टी ऐप या पॉइंट ऑफ सेल (PoS) पर पेमेंट कर सकेंगे। यूजर को टोकनाइजेशन के लिए कार्ड प्रदाता कंपनियों से रिक्वेस्ट करनी होगी। इसके बाद यूजर के कार्ड की डिटेल्स, टोकन रिक्वेस्ट करने वाली कंपनी की डिटेल्स (जिस कंपनी को पेमेंट करने के लिए टोकन जेनरेट करना चाहते हैं) और यूजर की डिवाइस (मोबाइल/टैबलेट) के आइडेंटिफिकेशन से टोकन जेनरेट होगा। टोकन जेनरेट होने के बाद केवल उसी कंपनी के साथ इसे शेयर किया जा सकेगा, जिसके लिए इसे जेनरेट किया गया है। ग्राहकों के लिए यह सर्विस पूरी तरह मुफ्त होगी और कार्ड प्रदाता कंपनियां इसके लिए उनसे किसी भी तरह का कोई शुल्क नहीं वसूल सकेंगी। टोकन सिस्टम पहले ही कुछ जगह इस्तेमाल किया जाता रहा है। लेकिन, रिजर्व बैंक ने अब इसके दायरे को बढ़ा दिया है। अब नियर फील्ड कम्युनिकेशन (एनएफसी), मैग्नेटिक सिक्योर ट्रांसमिशन बेस्ड कॉन्टैक्टलेस ट्रांजैक्शन और क्यूआर कोड आधारित पेमेंट भी कर सकेंगे। 6) इस तरह होगा काम इस व्यवस्था के शुरू होने के बाद कार्ड धारक अपने कार्ड की डिटेल्स किसी थर्ड पार्टी ऐप (जैसे- फूड डिलेवरी ऐप, कैब सेवा प्रदाता ऐप) के साथ शेयर नहीं करनी होगी। पहले ऐसा करने से यूजर को कार्ड का डेटा इन वेबसाइट्स या ऐप पर सेव करना होता था, जिसके चोरी होने का डर लगा रहता है। टोकन सर्विस ग्राहकों के इच्छा पर निर्भर करेगी। इसे लेने के लिए उन पर किसी तरह का कोई दबाव नहीं बनाया जा सकेगा और न ही बैंक/कार्ड प्रदाता कंपनियों द्वारा अनिवार्य रूप से इसे लागू किया जा सकेगा। कार्ड प्रदाता कंपनियां इन सेवाओं के लिए किसी थर्ड पार्टी ऐप डेवलपर से टोकन सर्विस के लिए कॉन्ट्रैक्ट कर सकेंगी। हालांकि, इस टोकनाइज्ड पेमेंट सिस्टम में भाग लेने वाली सभी कंपनियों को रिजर्व बैंक के साथ रजिस्टर्ड होना जरूरी है। 10) ग्राहकों के हाथ में होगा कंट्रोल ग्राहकों के पास खुद को कॉन्टैक्टलेस, क्यूआर कोड या इन-ऐप परचेज जैसी किसी भी सर्विस के लिए रजिस्टर और डी-रजिस्टर करने का अधिकार होगा। यह सुविधा अभी सिर्फ मोबाइल फोन और टैबलेट के माध्यम से ही मिलेगी। इससे मिले फीडबैक के आधार पर बाद में अन्य डिवाइसों के लिए भी इसका विस्तार किया जाएगा। टोकनाइज्ड कार्ड ट्रांजेक्शन के माध्यम से होने वाले लेनदेन के लिए ग्राहक हर ट्रांजेक्शन की लिमिट के साथ-साथ डेली ट्रांजेक्शन लिमिट भी तय कर सकते हैं।इसके बाद तय लिमिट से ज्यादा का लेनदेन नहीं हो सकेगा। कार्ड प्रदाता को यह सुनिश्चित करना होगा कि ग्राहक जल्द से जल्द आईडेंटिफाइड डिवाइस (मोबाइल/टैबलेट) खोने की कंप्लेन दर्ज करा सके ताकि अनाधिकृत लेनदेन रोका जा सके। रिजर्व बैंक ने कहा है कि टोकन ट्रांजेक्शन सिस्टम के दौरान होने वाले सभी ट्रांजेक्शन के लिए कार्ड पेमेंट कंपनी ही जिम्मेदार होंगी। रिजर्व बैंक ने कहा है कि कार्ड के लिए टोकन सेवाएं शुरू करने से पहले अधिकृत कार्ड पेमेंट नेटवर्क को निश्चित अवधि में ऑडिट प्रणाली स्थापित करनी होगी। यह ऑडिट साल में कम से कम एक बार होनी चाहिए।
06:09
December 26, 2021
Ayushman Bharat Digital Mission Digital Health ID Card Registration
PM Modi Health ID Card 2021, ndhm.gov.in Apply Online Digital Health ID Registration ndhm.gov.in डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड 2021: भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में प्रधान मंत्री डिजिटल स्वास्थ्य मिशन (पीएम-डीएचएम) लॉन्च किया है। योजना का शुभारंभ करते हुए पीएम ने कहा कि “आज हम एक ऐसा मिशन शुरू कर रहे हैं जिसमें भारत की स्वास्थ्य सुविधाओं में क्रांतिकारी बदलाव लाने की क्षमता है”। उन्होंने यह भी कहा कि इस मिशन के तहत एक व्यक्ति को एक डिजिटल आईडी प्रदान की जाएगी जिसमें एक व्यक्ति के सभी स्वास्थ्य रिकॉर्ड होंगे। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार ने आधिकारिक पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण का सीधा लिंक सक्रिय कर दिया है। Post Link: https://technicalmitra.com/digital-health-id-card/ Video Link: https://youtu.be/xARITEuRUQI
03:39
September 29, 2021
What is Web Hosting and Web Hosting Types
वेब होस्टिंग क्या है? वेब होस्टिंग के प्रकार Nitish Verma Talk Show के इस एपिसोड में सुनेंगे What is Web Hosting in Hindi: वेब होस्टिंग क्या है? सर्वर क्या है? वेब होस्टिंग के प्रकार Shared Web Hosting VPS Hosting Dedicated Hosting Cloud Hosting WordPress Hosting Reseller Hosting अगर आप इंटनेट यूजर हैं या आपकी खुद की वेबसाइट है। तो आपको समझना चाहिए की वेब होस्टिंग क्या है? पोस्ट लिंक: https://www.nitishverma.com/web-hosting-kya-hai-in-hindi/ नए ब्लॉगर्स फ्री हिंदी ब्लॉगिंग कोर्स ज्वाइन करें फ्री हिंदी ब्लॉगिंग कोर्स ज्वाइन करें: https://www.nitishverma.com/free-blogging-course-in-hindi/ पॉडकास्ट न्यूज़ लेटर :https://mailchi.mp/ee2b5cd7de13/nitish-verma-newsletter 
14:11
June 14, 2021
WordPress Kya Hai?
वर्डप्रेस क्या है? Post Link: https://www.nitishverma.com/wordpress-kya-hai/ वर्डप्रेस सबसे लोकप्रिय ओपन सोर्स कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम (CMS) है, जिसे कोई भी अपने स्वयं के Web Server पर मुफ्त में Install करके किसी भी प्रकार का ब्लॉग या वेबसाइट बना सकता है. वर्डप्रेस की पूरी कोड PHP द्वारा लिखी गई है. यह एक फ्री सॉफ्टवेयर है जिसे आप अपने वेब होस्टिंग पर इनस्टॉल करके एक वेबसाइट बना सकते हैं, लेकिन याद रखें की इसके लिए आपके पास वेब होस्टिंग खाता या होस्टिंग सर्वर होना आवश्यक है. जैसा की मैंने पहले बताया वर्डप्रेस एक ओपन सोर्स कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम है, जिस वजह से आपको इसके कोड में बदलाव करने का पूरा अधिकार होता है. आप अपने सर्वर पर इस वर्डप्रेस सीएमएस को स्थापित करके किसी भी प्रकार की वेबसाइट बना सकते हैं. वर्डप्रेस का इतिहासतो चलिए वर्डप्रेस के इतिहास के विषय में थोडा बहुत जानकारी प्राप्त करते हैं. 2001 Michel Valdrighi नाम के एक French programmer ने एक 2001 में ब्लॉग्गिंग टूल बनाया था जिसे b2/cafelog नाम दिया गया था असल में यही वर्डप्रेस के लिए नीव बनी. लेकिन 2002 में Valdrighi ने इसका development बंद कर दिया.2003 Matt Mullenweg और Mike Little नाम के दो लोगों ने इसी टूल से idea लेकर WordPress बनाया और पहला version launch किया.2004 वर्डप्रेस में पहली बार plugin system को जोड़ा गया.2005 पहली बार Theme system सामिल किया गया और एक default template डाला गया इसके अलावा Image upload की सुविधा डाली गयी, import system को सुधर किया गया और भी कई टूल्स जोड़े गये.2007 नया interface design किया गया और auto save, spell checking जैसे features डाले गये.2008 एक web design कंपनी “Happy Cog” ने WordPress प्रोजेक्ट के साथ जुड़ गए और वहीँ वो उनकी मदद की एक नए WordPress admin interface की design करने के लिए. वहीँ Admin UI को भी फिर से नया रूप प्रदान किया गया. फिर बाद में नए features जैसे की shortcodes, one-click updates और built-in plugin installation को WordPress में शामिल किया गया नए नए releases के साथ.2010 Automattic, वो company जिसकी शुरुवात की गयी थी WordPress co-founder Matt Mullenweg के द्वारा, उन्होंने वर्डप्रेस की पूरी ownership को ट्रान्सफर कर दी WordPress Foundation को. जिसमें उन्होंने WordPress trademark और logo को भी ट्रान्सफर कर दिया. ये वर्डप्रेस के इतिहास में एक बहुत बड़ा दिन था क्यूंकि अब स्वतंत्र रूप से वर्डप्रेस बढ़ सकता था और किसी एक कंपनी या किसी developers के समूह के ऊपर उन्हें निर्भर नहीं रहना पड़ा. ऐसे ही धीरे धीरे वर्डप्रेस आगे बढ़ता चला गया और पूरी ऑनलाइन जगत में एक बहुत ही प्रसिद्ध CMS बन गया.2018 WordPress 5.0 को release किया गया एक बिलकुल ही नए editing experience के साथ. इस नए WordPress block editor project का कोड नाम “Gutenberg” रखा गया.ऐसे ही हर साल लगातार वर्डप्रेस को improve किया जाता रहा और आज भी नये-नये updates आते रहते हैं और यह सिलसिला लगातार जारी है.
09:01
May 30, 2021
Read Along by Google: A fun reading app
Read Along is a free reading app for Android that helps children have fun while they learn to read. Read Along has an in-app reading buddy that listens to your young learner read aloud, offers assistance when they struggle and rewards them with stars when they do well – guiding them along as they progress. Google Read Along (Bolo) App : इंडियन किड्स के लिए ऑनलाइन रीडिंग ऐप रीड अलॉन्ग (पूर्व में बोलो) 5 वर्ष और उससे अधिक आयु के बच्चों के लिए डिज़ाइन किया गया एक स्वतंत्र और मजेदार भाषण आधारित रीडिंग ट्यूटर ऐप है।यह उन्हें अंग्रेजी और कई अन्य भाषाओं (हिंदी, बांग्ला, मराठी, तमिल, तेलुगु, उर्दू, स्पेनिश और पुर्तगाली) में उनके पढ़ने के कौशल में सुधार करने में मदद करता है।जिससे उन्हें दिलचस्प कहानियों को पढ़ने और “दीया” के साथ स्टार और बैज एकत्र करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। ऐप असिस्टेंट में फ्रेंडली है। Post Link: https://technicalmitra.com/google-read-along-bolo-app-kya-hai/
06:46
May 29, 2021
Domain Name Kya Hai? Complete Guide in Hindi
Domain Name Kya Hai | डोमेन नेम क्या है हिंदी गाइड डोमेन नेम आपकी वेबसाइट का नाम है। सीधे शब्दों में कहें तो जो आपके वेबसाइट के यूआरएल का नाम है उसे ही डोमेन नेम कहते हैं। डोमेन नाम एक पता होता है जिसे उपयोगकर्ता आपके वेबसाइट को एक्सेस कर सकता है। डोमेन नाम का प्रयोग इंटरनेट से जुड़े किसी कंप्यूटर की पहचान और खोज करने के लिए की जाती है। अब कंप्यूटर आईपी एड्रेस का उपयोग करता है जो नंबर के कुछ सीरीज होते हैं। और इंसान के लिए ये कई स्ट्रिंग्स याद रखना मुश्किल है। ऐसा करने के लिए हम कह सकते हैं कि डोमेन नेम को इसिलिए डेवलप किया गया की इंसान को ये नंबर्स ऑफ स्ट्रिंग्स (आईपी एड्रेस) याद रखने की जरूरत न पड़े। इस पोस्ट में आप जानेंगे Domain Name Kya Hai? डोमेन नेम में कौन से कॉम्पोनेन्ट होते हैं? Best and Popular TLD’s gTLD और ccTLD डोमेन नेम में क्या अंतर है? डोमेन नाम का इतिहास ICANN क्या है? Top Domain Registrar Companies डोमेन नेम और यूआरएल में क्या फर्क है? डोमेन नाम खरीदने के लिए कुछ उपयोगी टिप्स डोमेन नेम में कौन से कॉम्पोनेन्ट होते हैं? एक डोमेन नेम जो स्ट्रिंग्स डॉट (.) से सेपरेट होते हैं। जो 2 या 3 पार्ट में हो सकता है ये आपकी वेबसाइट पर निर्भर करता है। मैं समझाता हूं कन्फ्यूज होने की जरूरत नहीं है। डोमेन नेम का General Syntax Structure होता है। जो machine_name.subdomain.domain.tld इस तरह से होता है। उदाहरण के लिए मेरी वेबसाइट का डोमेन देखें। www:  Machine Name Nitishverma:  Midlevel Domain .COM:  TLD top level domain पोस्ट लिंक: https://www.nitishverma.com/domain-name-kya-hai-hindi-guide/
12:49
May 26, 2021
As deadline nears, Twitter, Facebook yet to comply with new government rules, face shutdown in India
As deadline nears, Twitter, Facebook yet to comply with new government rules, face shutdown in India Social Media Guidelines: Facebook, Twitter और Instagram जैसी सोशल मीडिया क्या भारत में काम करना बंद कर देंगी? इन सोशल साइट्स के यूजर्स की संख्या करोड़ों में, ऐसे में यह सवाल इन दिनाें चर्चा में है. आपको बता दें कि इस साल 25 फरवरी को भारत सरकार के इलेक्ट्राॅनिक्स एवं इनफाॅर्मेशन टेक्नोलॉजी मंत्रालय (MEITY) ने सभी सोशल मीडिया कंपनियों (Social Media Companies) को नये नियमों का पालन करने के लिए तीन महीने का समय दिया था, जो 26 मई को पूरा हो रहा है.सोशल मीडिया कंपनियों को भारत में कंप्लायंस अधिकारी, नोडल अधिकारियों की नियुक्ति करने के लिए कहा गया था और उन सभी का कार्यक्षेत्र भारत में होना जरूरी रखा गया था. इसके अलावा, शिकायत समाधान, आपत्तिजनक कंटेट की निगरानी, कंप्लायंस रिपोर्ट और आपत्तिजनक सामग्री को हटाना आदि के नियम भी शामिल हैं. Post Link: https://www.nitishverma.com/kya-facebook-twitter-instagram-ban-honge/ Subscribe Nitish Verma Talk Show Newsletter: https://mailchi.mp/ee2b5cd7de13/nitish-verma-newsletter
03:51
May 25, 2021
Hinglish Me Blogging Kyu Karein?
Hinglish Me Blogging Kyu Karein? | हिंगलिश ब्लॉग कैसे शुरू करें? Hindi ( हिंदी ) humare bharat desh ki rashtra Bhasa hai. Ye Bharat ke alawa bhi kai aur jagho par boli jaane waali popular languages me se ke hai. Lekin jaise jaise humare desh ne digitalization ki traf badha humare yanha Hinglish ne ek bada rup khada kar liya.  Mujhe yaad hai ek jab aap 15 saal pehle ki internet world ki baat karein to internet par News se lekar blogs lagbhag sabhi English me they. Ya hum ye keh sakte hain ki aapko lagbhag sabhi results English me hi dikhyae jaate they. Par badlte samay ke saath logon ne Hindi aur Hinglish me likhna shuru kiya aur aaj uska natija hum internet par dekh rahe hain ki hume kai sare articles Hindi aur Hinglish me mil jaate hain. To aaiye jante hain Hinglish Me Blogging Kyu karein? इस पॉडकास्ट में आप सुनेंगे Hinglish Kya hai? India Me Hinglish ka Future: Videshi Ya Bade Brands Ka Hinglish Me Advertisement Hinglish Me Blogging Kyu Karein? Maine Hinglish Me Blogging Kyu chuni? Post Link: https://www.nitishverma.com/hinglish-me-blogging-kyu-karein/ फ्री न्यूज़ लेटर ज्वाइन करें : https://lnkd.in/gcE3DUz
11:37
May 25, 2021
Blogging Kya Hai?
क्या आप जानते हैं कि ब्लॉगिंग क्या है? Blogging Kya Hai? क्या आप जानते हैं कि ब्लॉग क्या है? ब्लॉगिंग क्या होता है? (Blogging Kya Hai?) यदि आप नहीं जानते हैं, तो आप सही जगह पर आए हैं।इस ऑनलाइन पत्रिका में, आप अपने दैनिक जीवन के बारे में बात कर सकते हैं या उन चीजों को साझा कर सकते हैं जो आप करते हैं। इस पॉडकास्ट में आप सुनेंगे ब्लॉगिंग क्या है? ( Blogging Kya hai?)ब्लॉग क्या है? Blog Kya Hai? ब्लॉग का इतिहासBlog का उद्देश्य क्या है? ब्लॉग और वेबसाइट में क्या अंतर है?वेबसाइटों से ब्लॉगों को क्या अलग करता है? ब्लॉगिंग इतना लोकप्रिय क्यों है? ब्लॉगर कौन होता है?ब्लॉग कंटेंट क्या होता है? ब्लॉग और सीएमएस के बीच अंतर? पोस्ट लिंक: https://www.nitishverma.com/blogging-kya-hai/ फ्री न्यूज़ लेटर ज्वाइन करें : https://mailchi.mp/ee2b5cd7de13/nitish-verma-newsletter 
11:14
May 23, 2021
Google Maps Business Listing: Google Maps Par Apna Business Kaise Dalein
Google Maps Business Listing | गूगल मैप पर अपना बिज़नेस कैसे डालें गूगल मैप्स पर अपना बिज़नेस क्यों डालें ? मान लीजिये आप भी मेरी तरह SEO (Search Engine Optimization) Service प्रदान करने वाले कोई फ्रीलांसर या एजेंसी हैं। आपके शहर के अंदर ऐसी कई सर्विस देने वाली एजेंसी हो सकती है। गूगल मैप पर अपना बिज़नेस कैसे डालें? [Google Maps Business Listing] Google Maps function, जिसे पहले Google Places के रूप में जाना जाता था. अब Google My Business डैशबोर्ड का हिस्सा है।कुछ स्थितियों में,Google “Local” search results (Maps) में आसपास के समुदायों के व्यवसायों को प्रदर्शित करता है, आपको केवल शहर में अपना व्यवसाय पंजीकृत करने की अनुमति है या जिस शहर में आपका physical address है। Google My Business पर अपना बिज़नेस जोड़ना या क्लेम करना अधिक जानकारी के लिए या किसी हेल्प के लिए हमारे ब्लॉग पर विजिट करें। पोस्ट लिंक: https://www.nitishverma.com/google-maps-business-listing/ Email: mailme@nitishverma.com
09:58
May 21, 2021
Google I/O 2021 Here Are The 5 Big Announcement
Google I/O 2021 Here Are The 5 Big Announcement Google I/O 2021 18 मई को शुरू हो गया है। यह तीन दिवसीय सम्मेलन 20 मई तक जारी रहेगा। यहां हम आपको कंपनी द्वारा की गई 5 नई घोषणाओं की जानकारी दे रहे हैं। पिछले वर्ष Google का डेवलपर सम्मेलन कैंसल कर दिया गया था। लेकिन इस साल इसे आयोजित किया गया और कंपनी कई नई घोषणाओं के साथ वापस आई। Google I/O 2021, वार्षिक हार्डवेयर इवेंट आखिरकार मंगलवार, 18 मई को शुरू हो गया है। यह तीन दिवसीय सम्मेलन 20 मई तक जारी रहेगा। यहां हम आपको कंपनी द्वारा की गई 5 नई घोषणाओं की जानकारी दे रहे हैं। More Inclusive Camera: Google का कहना है कि वह एक स्मार्टफोन कैमरा बना रहा है जो स्कीन टोन को ज्यादा बेहतर तरीके से दर्शाएगा। Google के समीर समत ने कहा, "हमारे Google प्रोडक्ट्स में भी फोटोग्राफी वैसी नहीं बन पाई है जैसा हम उसे बनाना या देखना चाहते हैं।" Google का कहना है कि वह नेचुरल ब्राउन टोन लाने के लिए ऑटो व्हाइट बैलेंस एडजस्टमेंट में बदलाव कर रहा है। वह सब्जेक्ट को पृष्ठभूमि से बेहतर ढंग से अलग करने के लिए नए एल्गोरिदम पर भी काम कर रही है। AI-curated Albums: Apple और Facebook की तरह, Google Photos कलेक्शन को क्यूरेट करने के लिए AI का इस्तेमाल करेगा। इसके बाद इसे यूजर्स के साथ शेयर किया जाएगा। कई बार ऐसा देखा गया है कि Apple और Facebook के साथ लोगों की एक शिकायत रहती है कि वे उन्हें ऐसे भी कलेक्शन या फोटोज क्यूरेट कर दिखाते हैं जो उनके जीवन के मुश्किल भरे समय के हैं। Inclusive language: Google ने एक नया फीचर पेश किया है जिसका नाम Smart Canvas है। यह एक तरह का अम्ब्रेला प्लेटफॉर्म है जो Google डॉक्स, मीट, शीट्स, टास्क और स्लाइड को आपस में जोड़ता है। एक अन्य फीचर Assisted Writing भी है जो यूजर के जेंडर्ड टर्म्स को फ्लैग करेगा और विकल्प सुझाएगा। Android 12: Google ने अपने नए ऑपरेटिंग सिस्टम, Android 12 को एंड्रॉइड के इतिहास में सबसे बड़ा डिजाइन परिवर्तन बताया है। इसमें नई प्राइवेसी फीचर्स शामिल हैं जो यूजर्स को इस बात पर नियंत्रण रखने की अनुमति देंगे कि ऐप्स उनसे कितनी जानकारी ले रही हैं। स्क्रीन के टॉप पर एक लाइट दिखाई देगी अगर कोई ऐप डिवाइस का कैमरा या माइक्रोफोन इस्तेमाल कर रही होगी तो। 3D Video Conferencing: Google ने घोषणा कर बताया है कि वो नए वीडियो चैट सिस्टम पर काम कर रहा है जिसके तहत आप जिससे बात करेंगे वो आपके सामने 3D में उपलब्ध होगा। इस प्रोजेक्ट का नाम Starline है और कंपनी का उद्देश्य है कि वो वीडियो चैट्स के लिए अल्ट्रा रियलिस्टिक प्रोजेक्शन उपलब्ध कराए। अगले पॉडकास्ट में मैं गूगल I/O 2021 से जुड़ी और भी जानकारी पॉडकास्ट और ब्लॉग के माध्यम से दूंगा।
07:41
May 19, 2021
How To Apply Driving License Online
How To Apply Driving License Online ड्राइविंग लाइसेंस के लिए ऑनलाइन कैसे करें आवेदन? क्या आप भी ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की योजना बना रहे हैं? ड्राइविंग लाइसेंस भारत में ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों तरीकों के जरिए बनवाया जा सकता है। हालांकि, कोरोना वायरस महामारी के दौरान ऑनलाइन माध्यम ही सबसे लिए इस वक्त सहज और सुरक्षित जरिया समझा जा सकता है। ऑनलाइन माध्यम से लाइसेंस बनवाने में न तो आपको किसी कतार में खड़े रहने की जरूरत पड़ती है और न ही सरकारी ऑफिस के चक्कर लगाने की आवश्यकता पड़ती है। भारत में ड्राइविंग लाइसेंस राज्य सरकार द्वारा ज़ारी किए जाते हैं। कई सरकारों ने इसके लिए ऑनलाइन प्रक्रिया ज़ारी की हुई है। इसके अलावा, केंद्र सरकार ने हाल ही में परिवाहन सारथी वेब पोर्टल लॉन्च किया था, ताकि नागरिक आसानी से ऑनलाइन माध्यम के जरिए ड्राइविंग लाइसेंस बनवा सकें। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको स्टेप-बाय-स्टेप जानकारी देंगे कि कैसे ऑनलाइन माध्यम से अपने ड्राइविंग लाइसेंस का आवेदन करें। ऑनलाइन माध्यम से ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवदेन करने की प्रक्रिया बताने से पहले यह जान लेना जरूरी है कि आपके पास लर्नर लाइसेंस होना अनिवार्य है। यदि आपके पास लर्नर लाइसेंस नहीं है, तो आपको ड्राइविंग लाइसेंस ज़ारी नहीं किया जाएगा। Link: https://sarathi.parivahan.gov.in/sarathiservice/stateSelection.do
04:01
May 17, 2021
Ola Cabs To Deliver Oxygen Concentrators Free Of Cost Within 30 Minutes
Ola Cabs To Deliver Oxygen Concentrators Free Of Cost Within 30 Minutes. Ola घर तक डिलीवर करेगी फ्री Oxygen Concentrators, Give India के साथ शुरू की पहलOla ने इस मुहीम के लिए GiveIndia फाउंडेशन के साथ साझेदारी की है, ताकि वह 'O2forIndia' पहल के जरिए जरूरतमंद लोगों तक ऑक्सिज़न कॉन्सन्ट्रेटर की फ्री डिलीवरी कर सकें। भारत में COVID-19 की दूसरी लहर के दौरान उत्पन्न होने वाली बड़ी समस्याओं में से एक है लाइव-सेविंग रिसोर्से की अनउपलब्धता, जैसे ऑक्सिज़न कॉन्सन्ट्रेटर व सिलेंडर इत्यादि। इस वजह से मजबूरन लोगों को सोशल मीडिया के माध्यम से मदद की गुहार लगानी पड़ रही है। नागरिकों की मदद के लिए भले ही सरकारी मदद आने में देर हो, लेकिन कई ऐसी निजी संस्थाएं तो जो अपने दम पर लोगों की मदद के लिए आगे आ रही हैं। इन्हीं में से एक संस्था के साथ मिलकर Ola ने अपनी नई सर्विस का ऐलान किया है। इस सर्विस के माध्यम से ओला जरूरतमंद लोगों तक ऑक्सिज़न कॉन्सन्ट्रेटर की फ्री होम डिलीवरी करने वाला है। इस सर्विस के तहत ओला पिक-अप और डिलीवरी दोनों की सुविधा प्रदान करेगा। इस नई सर्विस का फायदा आप ओला ऐप के जरिए ले सकते हैं। हालांकि, फिलहाल ओला की यह सर्विस केवल बेंगलुरु शहर तक ही सीमित है। Ola Cabs के को-फाउंडर Bhavish Aggarwal ने ट्वीट के माध्यम से इस नई सर्विस का ऐलान किया और यह भी जानकारी दी कि आने वाले हफ्तों में यह सर्विस भारत के अन्य शहरों तक भी पहुंचाई जाएगी। इस सुविधा के लिए ग्राहकों को 5,000 रुपये की सेफ्टी रीफंडेबल राशि डिपॉज़िट करनी पड़ेगी।
03:51
May 15, 2021
What is Oximeter | Oximeter Kya Hai?
What is Oximeter | Oximeter Kya Hai? होम आइसोलेशन के दौरान नियमित तौर पर अपने ऑक्सीजन लेवल की जांच करते रहें। ताकि स्थिति भयावह होने से रोका जा सके। ऑक्सीजन स्तर की जांच करने के लिए घर पर ऑक्सीमीटर जरूर रखें। पल्स ऑक्सीमीटर एक छोटा सा डिजीटल उपकरण होता है, जो शरीर में ऑक्सीजन लेवल की करता है जांच। पल्स ऑक्सीमीटर स्थिति भयावह होने से पहले करता है सचेत, ऑक्सीजन सेचुरेशन के साथ हार्ट बीट की करता है जांच। एक स्वस्थ व्यक्ति का ऑक्सीजन स्तर 95 से 100 के बीच होना चाहिए। क्या करता है ऑक्सीमीटर? पल्स ऑक्सीमीटर में, हांथ की उंगली फंसाते ही खून में ऑक्सीजन की उपलब्धता की जांच करता है। इससे यह पता चलता है कि लाल रक्त कोशिकाएं (आरबीसी) कितना ऑक्सीजन ह्रदय से शरीर के अन्य भाग में पहुंचा रही हैं। इसमें फोटो इलेक्ट्रिक उपकरण होता है जो ऑक्सीजन सैचुरेशन के साथ हार्ट बीट को भी चेक करता है।ध्‍यान रखें क‍ि आप एक ही उंगली को ऑक्‍सीमीटर में फंसा कर ऑक्‍सीजन लेवल की जांच करें। जांच के दौरान ऑक्‍सीमीटर में अपनी उंगली ठीक से सेट करें। ऐसा न करने पर रीड‍िंग गलत हो सकती है। क्यों है घर में ऑक्सीमीटर जरूरी? कोरोना काल के दौरान विशेषज्ञ घर पर ऑक्सीमीटर रखने औऱ नियमित तौर पर ऑक्सीजन स्तर मापने की सलाह दे रहे हैं। कोविड से संक्रमित मरीजों को होम आइसोलेशन के दौरान घर पर ऑक्सीमीटर रखना बेहद जरूरी है तथा हर दो से तीन घंटे पर ऑक्सीजन लेवल की जांच करते रहें। ताकि ऑक्सीजन स्तर का पता लगाया जा सके औऱ स्थिति गंभीर होने से पहले मरीज को अस्पताल में भर्ती कराया जा सके और सही समय पर इलाज हो सके।
05:51
May 13, 2021
Let’s chat, but your WhatsApp has a new policy
WhatsApp’s controversial new privacy policy goes live on 15 May, despite pushback from users and governments. However, the company has made some changes to how the policy will be enforced. Mint takes a look at the new changes. WhatsApp की नई पॉलिसी एक्सेप्ट न करने पर ये फीचर्स काम करना कर देंगे बंद WhatsApp की नई पॉलिसी अपडेट को एक्सेप्ट करने के लिए फिलहाल यूज़र्स के पास अब कुछ समय बचा है। नई पॉलिसी 15 मई से लागू होने जा रही है और ये Facebook के साथ यूज़र डेटा साझा करने पर फोकस करती है। पिछले कुछ महीनों से इस नई पॉलिसी को लेकर यूज़र्स के मन में चिंता और आक्रोश दोनों देखने को मिल रहे हैं। कंपनी ने अपनी वेबसाइट के FAQ सेक्शन में भी अपडेट की गई पॉलिसी को लगा दिया है। अब, मुख्य सवाल यह उठता है कि यदि यूज़र्स ने इस प्राइवेसी पॉलिसी (WhatsApp Privacy Policy) को नहीं अपनाया, तो उनके साथ क्या होगा? क्या उनके अकाउंट स्थाई रूप से बंद हो जाएंगे? यूज़र्स के मन में कई सवाल हैं, इसलिए हमने आपकी कुछ चिंताओं को दूर करने का प्रयास किया है।
05:31
May 12, 2021
FeedBurner Alternatives 2021 : RSS Feed Newsletter For Bloggers
FeedBurner Alternatives- ब्लॉगर्स के लिए RSS फ़ीड न्यूज़लैटर Google Feedburner को बंद करेगा या बंद करने वाला है। इसके संकेत आ चुके हैं। अब जरुरत है FeedBurner Alternatives को अपने वेबसाइट या ब्लॉग पर प्रयोग करने का। Google Feedburner क्या है?फीडबर्नर Google की RSS फ़ीड मैनजमेंट सेवा है। जिस पर कई ब्लॉगर कई वर्षों से निर्भर हैं। मेरा ब्लॉग भी उनमें से एक था।जहाँ तक मुझे याद है, मैंने कभी भी फीडबर्नर में कोई नई सुविधा या अपडेट नहीं देखा है। फीडबर्नर के एपीआई को टेकडाउन किया गया था। इसके बाद फीड्स फीचर के लिए एडसेंस को भी रिटायर कर दिया। यह सब 2012 में हुआ था। Best Google Feedburner alternative कौन से हैं? ईमेल के माध्यम से ब्लॉग सदस्यता FeedBlitz Nourish Feedstats Rapid Feeds Feedity IFTTT FeedCat Best FeedBurner Alternative for 2021 : follow.it Post Link: https://www.nitishverma.com/best-feedburner-alternatives-in-hindi/
10:01
May 10, 2021
What is Twitter Spaces How to start and join twitter Spaces
Last year, Clubhouse, an audio-based chat platform came into being and became popular enough for social media platforms to copy it. Twitter is now one of the copiers after recently introduced Spaces, for people to engage in the “interactive podcasts” and talk about stuff.  This makes way for debates and healthy discussions on relevant topics with each other. You easily listen to, start, and be a part of such conversations with the help of the new Twitter feature. But, how? Keep on reading to find out just that.  Twitter Space Kya Hai? | ट्विटर स्पेस क्या है? Twitter Spaces उपयोगकर्ताओं को “Spaces” ( ऑडियो चैट रूम) के भीतर होस्ट किए गए live audio conversations को होस्ट और पार्टिसिपेट करने की अनुमति देता है। साधारण शब्दों तो Twitter Spaces एक ऑडियो चैटरूम है। जहाँ लाइव ऑडियो बातचीत की जा सकती है। ये प्रोडक्ट वर्तमान में परीक्षण में है, और केवल शॉर्टलिस्ट किए गए उपयोगकर्ता अभी अपना स्वयं का स्पेस बना सकते हैं। हालाँकि, iOS और Android पर कोई भी Spaces में शामिल हो सकता है और सुन सकता है। Post Link: https://www.nitishverma.com/twitter-spaces-kya-hai/
05:51
May 08, 2021
Content Generation with Google Question Hub
In the world of search, Google is at the forefront of delivering results in the form of fresh content for people seeking answers. With thousands and even millions of search results, you may think that each question in the world can be supplied with the answer to satisfy it. क्वेश्चन हब क्या है (What is Question Hub in Hindi) Google ने Question Hub मुख्य्तोर से Content Writers या Bloggers के लिए बनाया है. इसका मुख्य उद्देश्य है की ये Bloggers के सामने उन questions को रखे जिनके जवाब users जानना चाहते हैं लेकिन वो अभी internet पर उपलब्ध नहीं है. इससे bloggers को ये समझने में आसानी होगी की आखिर में users क्या जानना चाहते हैं और इसलिए वो उसी topic पर अपना article लिखेंगे. यह Question Hub Tool एकदम से Free है. और इसे कोई भी blogger या content creator इस्तमाल कर सकता है लेकिन उससे पहले उनके पास एक हिंदी blog होना अनिवार्य है. वरना ये उनके कोई भी काम नहीं आ सकता है.इसे Google ने खासतोर से bloggers के लिए बनाया है. ऐसा इसलिए क्यूंकि Google के द्वारा research से ये बात पता चली है की हिंदी भाषा में content केवल 0.1% ही है जहाँ English में content करीब 50% हैं. ऐसे में भारत जैसे एक हिंदी भाषा वाले देश में हिंदी content की ज्यादा जरुरत है चूँकि यहाँ हिंदी पढने और समझने वाले users ज्यादा तादाद में हैं. वहीँ लोगों के सवालों का जवाब देने के लिए इतने content creators हैं ही नहीं और जो भी हैं वो ये नहीं जान पा रहे हैं की उन्हें आखिर में किस संधर्भ में article लिखना हैं. बस इसी परेशानी का एक बहुत ही बड़ा हल है Google Question Hub Tool, इसमें bloggers को ज्यादा पूछे जाने वाले सवालों के विषय में पता चल जाता है. जिससे की वो लोगों के सवालों के जवाब बेहतर ढंग से प्रदान कर सकें. Question Hub कैसे काम करता है? Question Hub का tool को बहुत ही simple बनाया गया है. इसकी UI (user interface) को भी बहुत ही सहज बनाया गया है. इसमें bloggers को users के उन सवालों के विषय में जानकारी प्राप्त होगी की जिनके विषय में पहले किसी ने उत्तर दिया ही नहीं है. आप लोगों ने भी ये जरुर महसुश किया होगा की जब आप कोई सवाल का जवाब ढूंडना चाहते हैं तब बहुत बार आपको आपके सवाल का सठिक जवाब नहीं मिल पाता है ऐसा इसलिए क्यूंकि किसी content creator ने कभी उस सवाल का कोई जवाब लिखा ही नहीं है या लिखने के वाबजूद उसे publish नहीं किया है. ख़ास इस प्रकार के परेशानियों को दूर करने के लिए Google ने Question Hub Tool का विकाश किया है, इससे publishers को उन सवालों के जवाब भी देने में आसानी होगी जिनके जवाब उन्हें पता तो होते हैं लेकिन उन्हें ये सवाल मिलते नहीं थे.
06:52
May 07, 2021
MyGov Corona Helpdesk Chatbot Helps Find Nearby COVID-19 Vaccination Centres: Here's How to Use It
MyGov कोरोना हेल्पडेस्क चैटबॉट की मदद से कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर खोजना हुआ आसान, ऐसे करें इस्तेमाल भारत का वैक्सीनेशन अभियान अब तीसरे चरण में पहुंच चुका है। इस चरण में 18 साल और उससे ऊपर के सभी नागरिकों को COVID-19 वैक्सीन दी जाएगी। इसके लिए भारत सरकार ने केंद्रीय CoWIN पोर्टल शुरू किया है। इस पोर्टल पर नागरिक अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं और अप्वॉइंटमेंट स्लॉट भी चेक कर सकते हैं। CoWIN पोर्टल नजदीकी वैक्सीनेशन सेंटर्स की सूचि दिखा देता है। मगर व्हाट्सएप से संचालित MyGov Corona Helpdesk चैटबॉट में एक नई सुविधा दी गई है जिससे लोग अपने नजदीक का वैक्सीन सेंटर आसानी से ढूंढ सकते हैं। यह चैटबॉट पिछले वर्ष लॉन्च किया गया था। MyGov Corona Helpdesk चैटबॉट WhatsApp पर नजदीकी वैक्सीनेशन सेंटर दिखा रहा है। इस चैटबॉट को पिछले साल फर्जी खबरों को हटाने और COVID-19 के प्रति जागरुकता फैलाने के लिए लॉन्च किया गया था। लॉन्च के मात्र दस दिनों के अंदर इसमें 1.7 करोड़ यूजर जुड़ चुके थे। अब तीसरे चरण की वैक्सीनेशन मुहिम के अन्तर्गत भारत सरकार के ट्विटर अकाउंट MyGovIndia से यह जानकारी सामने आई है कि MyGov Corona Helpdesk चैटबॉट अब नजदीकी वैक्सीनेशन सेंटर ढूंढने में भी लोगों की मदद करेगा। How to find nearest vaccination centre using WhatsAppMyGov Corona Helpdesk chatbot केवल व्हाट्सएप पर ही उपलब्ध है और इस सुविधा का लाभ लेने के लिए आपके फोन में व्हाट्सएप होना अनिवार्य है। नजदीकी वैक्सीनेशन सेंटर ढूंढने के लिए आप नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें। अपने मोबाइल फोन में 9013151515 नम्बर को सेव करें अथवा MyGoV Corona Helpdesk Chatbot खोलने के लिए इस लिंक पर विजिट करें। WHATSAPP LINK: https://api.whatsapp.com/send/?phone=919013151515&text=Hi&app_absent=0  वार्तालाप शुरू करने के लिए Hi अथवा Namaste ('नमस्ते') लिखें।स्वचालित प्रक्रिया द्वारा आपको उत्तर मिलेगा और कुछ सवालों का जवाब देने के पश्चात् आपसे आपके एरिया का पिन कोड पूछा जाएगा। आप वहां पर अपना पिन कोड लिख दें। उसके बाद चैटबॉट आपको बताए गए एरिया और पिनकोड के अनुसार वैक्सीनेशन सेंटर्स की लिस्ट भेज देगा।WhatsApp के अलावा आप MapmyIndia प्लेटफॉर्म या CoWIN प्लेटफॉर्म पर भी अपना नजदीकी वैक्सीनेशन सेंटर ढूंढ सकते हैं। CoWIN website के होम पेज पर 'find nearby vaccination centres' ऑप्शन है जहां पर अपना एरिया पिन कोड देकर आप उस एरिया के रजिस्टर्ड वैक्सीनेशन सेंटर ढूंढ सकते हैं
04:12
May 03, 2021
Parameter Of Google Core Web Vitals
Parameter Of Core Web Vitals  Core Web Vitals के तीन Parameter है। LCP , FID और Cls.  चलिए अब हम इनको ध्यान से समझते है।  LCP –LCP को हम Largest Contentful Paint के नाम से भी जानते है। यह Actually में आपकी Website के Above The Fold Area में Largest Element कितनी समय में Visual हो रहा है उसको दर्शाता है।  FID –FID की फुल फॉर्म है First Input Delay. यह वह समय होता है जब User आपकी Website से First Interact करता है।साधरण शब्दो में , User जब आपकी Website के लिंक पर क्लिक करता है तो उसको आपकी वेबसाइट का पहला Element कितने समय में Visual होता है वह FID कहलाता है।  CLS –CLS की Full-Form है Cumulative Layout Shift. इसका मतलब होता है जब कोई आपकी वेबसाइट पर क्लिक करता है तो आपकी Website के Layout में कितना Shift होता है।गूगल के अनुसार अगर आपकी वेबसाइट का Layout 0.1 शिफ्ट होता है तो यह Good में आता है।  Blog Link: Nitishverma.Com  Parameter Of Google Core Web Vitals From Our Show Is One Of Our Best Education Podcasts Available In Hindi. This Podcast Is Created By Nitish Verma. Nitish Verma Is Well Known For Its Education Podcasts. This Parameter Of Google Core Web Vitals Audio In Hindi.
06:01
May 02, 2021
Google Core Web Vitals kya hai
अपने यूजर को बेहतरीन Page Experience देने के लिए गूगल ने Google Core Web Vitals की शुरू किया है। अगर आपने अपने ब्लॉग को गूगल सर्च कंसोल में जोड़ा है। तो आपको Google Core Web Vitals और Page Experience ऑप्शन दिखाई देंगे। गूगल कोर वेब वाइटल क्या है? और इससे यूजर को अच्छा अनुभव कैसे मिलेगा? वेब वाइटल के कितने प्रकार हैं? ऐसे कई प्रश्न आपके दिमाग में होंगे।Google Core Web Vitals क्या है?Core Web Vitals उन फैक्टर्स का एक सबसेट है जो Google के “page experience” score का हिस्सा होगा। Core Web Vitals किसी पेज के यूजर एक्सपीयरन्स को मापने का एक तरीका है। तीन प्रकार के Core Web Vitals हैं: Largest Contentful Paint (LCP) First Input Delay (FID) Cumulative Layout Shift (CLS) Post Link:  https://www.nitishverma.com/google-core-web-vitals-kya-hai/
10:40
April 30, 2021
Unique And Good Initiative By Darbhanga DM DMCH Covid Bulletin App
Covid Bulletin App से घर बैठे मिलेगी कोरोना के मरीज की जानकारी, जानें दरभंगा DM की अनोखी पहल. DMCH Darbhanga Covid Bulletin App क्या है?दरभंगा जिला के डीएम त्याग राजन ने Covid Bulletin app के नाम से एक ऐप की शुरुआत की है। इस एप्प के द्वारा दरभंगा शहर को लोगों को जानकारी मिलेगी। इस ऐप को पूर्व सहायक समाहर्ता प्रियंका रानी के नेतृत्व में विकसित किया गया है।वर्तमान सहायक समाहर्ता अभिषेक पलासिया एवं आईटी सेल दरभंगा द्वारा इसे प्ले स्टोर पर डाला गया है। Covid Bulletin app को एंड्राइड मोबाइल के प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इस ऐप को खोलने के बाद डीएमसीएच में भर्ती होने के दौरान मरीज के जिस मोबाइल नंबर को रेजिस्टर्ड कराया है, उस मोबाइल नंबर को डालना होगा।इस ऐप से (कोविड-19) कोरोना के मरीज के भर्ती होने के समय से लेकर अभी तक के स्वास्थ्य स्थिति की दैनिक जानकारी मिल सकेगी।ये भी पढ़ें : DMCH Darbhanga Covid Bulletin App कैसे डाउनलोड करें? अगर आप के किसी परिजन का इलाज दरभंगा DMCH हॉस्पिटल में चल रहा है। तो उनकी जानकारी के लेने के लिए ये एप्प डाउनलोड कर सकते हैं।एप्प डाउनलोड करने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें। Post Link: https://technicalmitra.com/dmch-darbhanga-covid-bulletin-app/
04:14
April 29, 2021
Podcast Kya Hai?
पॉडकास्ट क्या है? ये कैसे काम करता है? Podcast Kya Hai : सीधे शब्दों में कहें: पॉडकास्ट एक ऑडियो प्रोग्राम है, टॉक रेडियो की तरह, लेकिन आप इसे अपने स्मार्टफोन पर सब्सक्राइब करके जब चाहे सुन सकते हैं।। आज के समय में Podcast का प्रचलन भारत में तेजी से बढ़ा है। तो क्या आप भी पॉडकास्ट शुरू करना चाहेंगे। पॉडकास्ट क्या है? ये कैसे काम करता है? इस शो  आपको Podcast Kya Hai इसकी पूरी जानकारी मिलेगी।इंटरनेट पर कंटेंट टेक्स्ट, इमेज और वीडियो के रूप में उपलब्ध हैं। इसी क्रम में अब कंटेंट ऑडियो में भी उपलब्ध हो रहे हैं। ऑडियो के फॉर्म में हम बचपन से रेडियो पर गाने सुनते आये हैं। बाद में कई तरह के म्यूजिक एप्प या वेबसाइट भी गाने सुनने और उसको डाउनलोड करने की सुविधा देने लगे। पोस्ट लिंक : https://www.nitishverma.com/podcast-kya-hai/
12:50
April 27, 2021
What is cloud computing? A beginner’s guide in Hindi
What is cloud computing? A beginner’s guide  Simply put, cloud computing is the delivery of computing services—including servers, storage, databases, networking, software, analytics, and intelligence—over the Internet (“the cloud”) to offer faster innovation, flexible resources, and economies of scale. You typically pay only for cloud services you use, helping lower your operating costs, run your infrastructure more efficiently and scale as your business needs change. Top benefits of cloud computing Cloud computing is a big shift from the traditional way businesses think about IT resources. Here are seven common reasons organisations are turning to cloud computing services: Cost Cloud computing eliminates the capital expense of buying hardware and software and setting up and running on-site datacenters—the racks of servers, the round-the-clock electricity for power and cooling, the IT experts for managing the infrastructure. It adds up fast. Speed Most cloud computing services are provided self service and on demand, so even vast amounts of computing resources can be provisioned in minutes, typically with just a few mouse clicks, giving businesses a lot of flexibility and taking the pressure off capacity planning. Global scale The benefits of cloud computing services include the ability to scale elastically. In cloud speak, that means delivering the right amount of IT resources—for example, more or less computing power, storage, bandwidth—right when it is needed and from the right geographic location. Productivity On-site datacenters typically require a lot of “racking and stacking”—hardware setup, software patching, and other time-consuming IT management chores. Cloud computing removes the need for many of these tasks, so IT teams can spend time on achieving more important business goals. Performance The biggest cloud computing services run on a worldwide network of secure datacenters, which are regularly upgraded to the latest generation of fast and efficient computing hardware. This offers several benefits over a single corporate datacenter, including reduced network latency for applications and greater economies of scale. Reliability Cloud computing makes data backup, disaster recovery and business continuity easier and less expensive because data can be mirrored at multiple redundant sites on the cloud provider’s network. क्लाउड कंप्यूटिंग pay-as-you-go मूल्य निर्धारण के साथ इंटरनेट पर आईटी संसाधनों की ऑन-डिमांड डिलीवरी है।फिजिकल डाटा सेंटर्स और सर्वरों को खरीदने और उनके रख रखाव के बजाय, आप अमेज़न वेब सेवा (AWS) या Microsoft cloud platform जैसे क्लाउड प्रदाता से आवश्यक आधार पर, कंप्यूटिंग सेवाओं, जैसे कंप्यूटिंग पावर , स्टोरेज और डेटाबेस तक पहुँच सकते हैं। पोस्ट लिंक: https://www.nitishverma.com/what-is-cloud-computing-in-hindi/
09:34
April 24, 2021
Government Notifies New Rules For Social Media, Digital News And OTT Platforms
Social media companies such as Twitter, Facebook, WhatsApp and OTT players like Netflix, Amazon Prime, Hotstar, Zee5, among others, will soon have to adhere to higher accountability standards in India. The new intermediary guidelines cover publishers of news on digital media as well. The Ministry for Electronics and IT has notified Information Technology (Intermediary Guidelines and Digital Media.  Online News और social media regulation पर भारत सरकार के दिशा-निर्देश अगर आप डिजिटल प्लेटफार्म पर कंटेंट बना रहे हैं या देख रहे हैं। तो Online News and social media regulation पर भारत सरकार के दिशा-निर्देश के बारे में आपको जानना चाहिए। सोशल मीडिया और डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर आज कंटेंट्स बड़ी तेजी से बन रहे हैं। ऐसे में कई बार कुछ कंटेंट को लेकर विवाद होता रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने कुछ social media regulationके दिशा निर्देश दिए हैं। Social Media Guidelines and Rules 2021 क्या है ? इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeITY) ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म, OTT प्लेटफार्म और डिजिटल मीडिया के लिए महत्वपूर्ण सिफारिशों के साथ सूचना प्रौद्योगिकी (Intermediary Guidelines and Digital Media Ethics Code) Rules, 2021 के मसौदे की घोषणा की है। भारत सरकार ने गुरुवार को सोशल मीडिया और ओटीटी प्लेटफार्मों पर सामग्री के दुरुपयोग को रोकने के लिए दिशानिर्देश जारी किए। Post Link: https://www.nitishverma.com/online-news-and-social-media-regulations/
11:49
April 19, 2021
Looking For Courses After 12th? Digital Marketing Is The Best Choice
Every student in India stands at crossroads of life upon completion of 12th standard of Higher Secondary Certificate (HSC) or its equivalent. They’re torn between opting for traditionally favourite, professional courses including engineering and medicine. Or enrolling for regular degree courses after 12th including Bachelor of Arts, Science, Commerce and others. A right choice paves way for an excellent career and happy life while a wrong decision can land you in nightmarish conditions. Why does this occur? Here are the reasons. 12 वीं के बाद डिजिटल मार्केटिंग बेस्ट चॉइस है Post Link: https://www.nitishverma.com/after-12th-digital-marketing/ Facts & Figures Over 1.5 million engineers graduate every year from nearly 4,800 engineering colleges and universities across India. Sadly, the unemployment rate among engineering graduates stands at a staggering 80 percent, due to various reasons. This means, the effort, time and money on engineering studies is a sheer waste. Currently, some 200,000 doctors in India are unemployed or don’t have own clinics, despite only 50,000 students graduating every year with a medical degree. And the situation is worse for students that complete their BA, B.Com, B.Sc and similar degrees: At best, they can land a sales or clerical job unless they hold some post-graduate, specialized qualifications. How to avoid these scenarios, would be the obvious questions you would ask if you’re looking for courses after 12th standard. That’s where Digital Marketing comes into play. Digital marketing courses after 12th enables you to overcome the threat of unemployment, low salaries and working at jobs you wouldn’t really relish. Many Reasons Which Proves Digital Marketing is the Best Course After 12th कई कारण जो डिजिटल मार्केटिंग को साबित करता है 12 वीं के बाद सबसे अच्छा कोर्स है।  Thanks For Listening Nitish Verma Talk Show
09:16
April 15, 2021
Digital Marketing has a better future | Online Marketing Me Behtar Bhavishya
डिजिटल या ऑनलाइन मार्केटिंग में हैं बेहतर भविष्य | Digital Marketing has a better future | Online Marketing Me Behtar Bhavishya  तकनीक बदलने के साथ ही करियर के नये विकल्प भी सामने आ रहे हैं। आज हर जगह डिजिटलाइजेशन हो रहा है और भविष्य में इसके लगातार बढ़ने की उम्मीद है। ऐसे में अगर आप अच्छा पैसा कमाना चाहते हैं तो डिजिटल या ऑनलाइन मार्केटिंग के जरिये लाखों की कमाई कर सकते हैं। अगर आप इस क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं तो इन बातों को जानें। डिजिटल मार्केटिंग इंटरनेट, कंप्यूटर और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के जरिये की जाने वाली मार्केटिंग है। इसे ऑनलाइन मार्केटिंग भी कह सकते हैं। डिजिटल मार्केटिंग में सोशल मीडिया, मोबाइल, ईमेल, सर्च इंजिन ऑप्टिमाइजेशन (एसईओ) आदि को टूल की तरह इस्तेमाल किया जाता है। From Our Show Is One Of Our Best Education Podcasts Available In Hindi. This Podcast Is Created By Nitish Verma. Nitish Verma Is Well Known For Its Digital Marketing Education Podcasts. This डिजिटल या ऑनलाइन मार्केटिंग में हैं बेहतर भविष्य Audio In Hindi.
07:13
April 14, 2021
What is Google Bots and How It's Work | Google Bots Kya Hai?
Googlebot is the generic name for Google's web crawler. Googlebot is the general name for two different types of crawlers: a desktop crawler that simulates a user on desktop, and a mobile crawler that simulates a user on a mobile device. Googlebot? Web crawler? Spider? क्या है? Googlebot Web crawler और Spider इन शब्दों का मतलब एक ही है: यह एक बॉट है जो वेब को क्रॉल करता है। Googlebot वेब पेजों को लिंक के माध्यम से क्रॉल करता है। यह नई और अपडेट की गई सामग्री पाता है और पढ़ता है और सुझाव देता है कि इंडेक्स में क्या जोड़ा जाना चाहिए। बेशक, इंडेक्स Google का मस्तिष्क है। यहीं पर सारा ज्ञान बसता है। गूगल बॉट कैसे काम करता है? बॉट पिछले क्रॉल के दौरान खोजे गए लिंक के साइटमैप और डेटाबेस का उपयोग करता है ताकि यह निर्धारित किया जा सके कि आगे कहाँ जाना है। जब भी क्रॉलर किसी साइट पर नए लिंक पाता है, तो यह उन्हें अगले पेज पर जाने के लिए पृष्ठों की सूची में जोड़ता है। यदि Googlebot लिंक या Broken Link में परिवर्तन पाता है, तो यह उस पर ध्यान देगा ताकि index को अपडेट किया जा सके। Post Link: https://www.nitishverma.com/google-bot-kya-hai-in-hindi/
10:10
April 11, 2021
What is Starlink Satellite Internet Project? स्टरलिंक इंटरनेट प्रोजेक्ट क्या है?
Starlink is a satellite internet constellation being constructed by SpaceX providing satellite Internet access. The constellation will consist of thousands of mass-produced small satellites in low Earth orbit (LEO), working in combination with ground transceivers. SpaceX plans to sell some of the satellites for military,[6] scientific, or exploratory purposes. The SpaceX satellite development facility in Redmond, Washington houses the Starlink research, development, manufacturing, and orbit control. The cost of the decade-long project to design, build, and deploy the constellation was estimated by SpaceX in May 2018 to be at least US$10 billion. भारत में आ चुकी है – Starlink satellite internet company दुनियां में सम्पत्ति के मामले में नंबर वन बने एलन मस्क (Elon Musk) दुनियाँ के सबसे अमीर आदमी बन गए है । इन्ही की बड़ी कंपनी SpaceX है । यह कंपनी एक स्टारलिंक प्रोजेक्ट (Starlink Project) पर कार्य कर रही है । इसके तहत यूजर (User) को इन्टरनेट सेवा सेटेलाईट के माध्यम से मिलेगी। क्या है स्टारलिंक इन्टरनेट सर्विस ? स्टारलिंक (Starlink) पृथ्वी की निचली कक्षा में घूमने वाली सैटेलाइट सर्विसज है, जो यूजर को ब्रॉडबैंड इंटरनेट कनेक्शन (Broadband Internet connection) उपलब्ध करवाती है। इस सर्विस का फायदा होगा कि देश के ग्रामीण इलाकों में अच्छी इंटरनेट सर्विस को पहुंचाया जा सकेगा। कंपनी ने लगभग 1,000 सैटेलाइट को लॉन्च किया है। भविष्य में और भी सैटेलाइट किए जायेंगे । - Thanks For Listening Nitish Verma Talk Show
08:25
April 10, 2021
SSL Certificate क्या है, कैसे काम करता है? What is SSL Certificate and How Its Work? | Nitish Verma Talk Show
Welcome To Nitish Verma Talk Show Podcast. इस एपिसोड में आप जानेंगे SSL Certificate क्या है, कैसे काम करता है?  What is SSL Certificate and How Its Work?  आज के समय में अगर आप किसी वेबसाइट पर विजिट करते हैं। या आप किसी वेबसाइट या ब्लॉग के मालिक हैं , तो आपको SSL Certificate के बारे में पता होना चाहिए। SSL एक encryption protocol होता है जो इन्टरनेट में इस्तेमाल किया जाता है. ये protocol internet browser और websites के बिच एक सुरक्षित संपर्क प्रदान करता है जो Internet users को अनुमति देता है की वो अपने private data को दुसरे website के साथ अदला बदली सुरक्षित रूप से कर सके. SSL का fullform है Secure Sockets Layer. अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें: SSL / TLS Certificate क्या है? कैसे काम करता है? Post Link: https://www.nitishverma.com/ssl-tls-certificate-kya-hai/ About Me: Nitish Verma is a Hindi Blogger, Podcaster, Author, Digital marketing Practitioner. Who is on a mission of instilling people towards success. Started his entrepreneurial journey as a video content creator, now he is engaged in many strategic platforms sharing his knowledge and experience to boost brands and entrepreneurs. Facebook: https://www.facebook.com/imnitishverma Twitter: https://twitter.com/imnitishverma Instagram: https://instagram.com/imnitishverma
06:46
April 06, 2021
Apple may launch its own search engine to take on Google
Apple may bring out its own search engine to take on Google, as per reports. There are several signs that suggest the Cupertino, California-based company could be working towards its own search engine. These include the anti-competitive nature of Google, its regulatory concerns and job listings by Apple for AI experts and search engineers. Moreover, a report by Coywolf states that with iOS 14 beta and iPadOS 14 beta, Apple’s Spotlight Search bypasses Google Search to show search results. As per reports, Google has been paying Apple for several years to remain the default search engine on Safari for iOS, iPadOS, and macOS. The deal ensures that iPhone, iPad, and Mac users search with Google when they use Safari. This is unless users manually change the default search engine preferences. However, the deal is anti-competitive in nature, as per the UK Competition and Markets Authority and gives rise to regulatory concerns. As per the report, the regulators may force Apple to remove Google as the default search engine and have users choose which search engine they want to use when they first launch Safari. Apple, which recently became the first publicly listed US company to reach a market value of $2 trillion is inviting experts in a residency programme to apply their expertise to build revolutionary machine learning and AI empowered products and experiences, a report by Infotech lead noted.
05:06
September 01, 2020
Google Kormo Jobs App क्या है और कैसे प्रयोग करें?
Google Kormo Jobs App क्या है और कैसे प्रयोग करें? इस लॉक डाउन के बीच Google ने अपनी जॉब-लिस्टिंग ऐप Kormo Jobs का विस्तार भारत में किया है। जैसा की आपको पता होगा देशव्यापी लॉक डाउन में बहुत सारे लोगों की नौकरी चली गई है। बहुत से कारणों की वजह से लोग अपनी जॉब भी बदलना चाह रहे हैं। ऐसे में इस संकट के समय में Google Kormo Jobs App भारत में लांच कर दिया गया है। Google Kormo Jobs App क्या है? Kormo Jobs ऐप विभिन्न नौकरियों को लिस्ट करता है, इसके अलावा हर कोई इस प्लेटफॉर्म पर व्यक्तिगत रूप से अपना डिज़िटल CV भी बना सकता है। गूगल की यह नई पहल लाखों लोगों को नौकरियां दिलाने में मदद करेगी। इस पोस्ट में आप Google Kormo Jobs App क्या है? कैसे इसका प्रयोग करना है। ये सभी जानकारी हम इस पोस्ट में आपको देने वाले हैं। तो अगर आपको भी एक नई जॉब की तलाश है तो इस पोस्ट को जरूर पढ़ें। पोस्ट लिंक: https://www.technicalmitra.com/google-kormo-jobs-app-kya-hai/
06:30
August 26, 2020
Google Web Stories WordPress Plugin क्या है?
Google ने इस सप्ताह अपने नए Google AMP-Powered Web Stories WordPress Plugin के एक सार्वजनिक बीटा की घोषणा की। प्लगइन का विवरण में बताया गया है , “Visual storytelling for WordPress.” यह मूल रूप से वर्डप्रेस के भीतर AMP-powered stories बनाने के लिए एक कस्टम एडिटर है। तो अगर आप की साइट भी वर्डप्रेस पर है तो इस पॉडकास्ट में आप जानेंगे Google AMP-Powered Web Stories WordPress Plugin के बारे में। Post Link: https://www.nitishverma.com/google-amp-powered-web-stories-wordpress-plugin-kya-hai/ Follow This Links Hindi Digital Marketing Blog:- http://www.nitishverma.com/ Hindi Tech Blog:- http://www.technicalmitra.com/ Podcast: https://anchor.fm/nitishverma Facebook- https://www.facebook.com/imnitishverma Twitter- https://twitter.com/imnitishverma Instagram- http://www.instagram.com/imnitishverma LinkedIn- https://www.linkedin.com/in/imnitishverma/
17:36
August 12, 2020
Blogging vs Vlogging 2020:
Blogger और Vlogger, दोनों एक एक बेहतर तरीके हैं Internet से पैसे कमाने का. दोनों का काम है knowledge share करना. Blogging में हम text का इस्तिमाल करते है और Vlogging में video का. Vlogging होता है video blogging. आजकल हर कोई अपना online business को बढ़ाने केलिए ये दोनों जरिया का इस्तिमाल कर रहे हैं. बहुत सारे लोग ऐसे भी है जो इन दोनों के मदद से अच्छा खासा कमा लेते हैं. आपने देख होगा के, जो टॉप bloggers और vloggers होते है उनके पास रोज बहुत सारे views, subscribers आते हैं. अगर आपको भी top में आना है, तो आपको भी ऐसा कुछ strategy आपनाना होगा, जिससे आपकी followers बढ़ते रहे. लोग आपको आपकी communication के जरिये से पहचानते है. तो आपको पहले सोचना होगा के आपके लिए कौन सा जरिया सही है, जिससे आप लोगो के दिल को जीत सकते हैं. #EarnMoney #Online
07:08
July 23, 2020
कोरोनावायरस अपडेट: Aarogya Setu App Download aur Setup Kaise Karein?
कोरोनावायरस महामारी से निपटने के लिए, भारत सरकार ने एक नया ऐप लॉन्च किया है। इस नए कोरोना ट्रैकिंग ऐप (corona tracking app ) को आरोग्य सेतु (Aarogya Setu App) कहा जाता है, अगर आप  हाल ही में किसी भी कोरोनावायरस संक्रमित लोगों के साथ संपर्क में आये  हैं, तो वे उपयोगकर्ताओं को चेतावनी देते हैं। ऐप को केंद्र सरकार और NIC eGov Mobile Apps द्वारा विकसित किया गया है, जो भारत में अधिकांश सरकारी ऐप को डेवेलोप करती  है। ऐप एंड्रॉइड और आईओएस दोनों पर उपलब्ध है और संबंधित ऐप स्टोर के माध्यम से डाउनलोड किया जा सकता है। मैं आपसे भी आग्रह करूँगा की आप भी Aarogya Setu App Download करें. और दूसरों को भी करवाएं. खासकर ऐसे लोग जो बाज़ार में जरुरी सामन जैसे फल सब्जी दूध अनाज लेने के लिए जाते उनको ये एप्प जरुर इंस्टाल करवाएं. मुझे उम्मीद है आप इस पोस्ट को अपने परिवार, दोस्त  के शेयर करेंगे जिससे उनको भी ये जरुरी जानकरी मिल सके. पोस्ट लिंक : https://www.technicalmitra.com/aarogya-setu-app-download/ वीडियो लिंक: https://youtu.be/lyNOxMQIx_E
07:09
April 04, 2020
Link Aadhaar Card With Pan Card- आधार को पैन कार्ड से कैसे लिंक करें
Link Aadhaar Card With Pan Card- आधार को पैन कार्ड से कैसे लिंक करें Kya Aapko pata hai aapke PAN Card ko aadhar se link karna jaruri hai. Bharat Sarkar ke dwara ye spasht rup se bata diya gaya hai ki 31 June tak sabhi pan card users ko apna pan aadhar se link karna hoga, Agar aap aisa nahi karte hain to aapka PAN Card Cancel kar diya jayega. Link Aadhar Card With Pan Card me aap janenge ki kaise aap apne PAN ko aadhar se jodenge. Post Link: Link Aadhaar Card With Pan Card- आधार को पैन कार्ड से कैसे लिंक करें
07:40
January 06, 2020
Google Site Kit WordPress Plugin Kaise Install Karein?
Google Site Kit ek wordpress plugin hai. Google ne 2018 me US Wordcamp me ish plugin ki ghoshna ki thi. Google Site Kit plugin specially wordpress website ke liye google ke dwaara banaya gaya hai. Ish post me aap janenge ki Google site kit aapke wordpress ke liye kya kar sakta hai aur isko kaise install karte hain. Filhaal Google site kit Beta phase me chal raha hai. Abhi ispar developers ke dwaara work kiya jaa raha hai. Lekin aap chahein to ish plugin ko use kar sakte hain. Abhi ye plugin wordpress par officially available nahi hai. Agar aap wordpress se download karna chahte hain to aapko thoda wait karna pad sakta hai. Post Link: https://www.nitishverma.com/google-site-kit-wordpress-plugin/ YouTube Video Link: https://youtu.be/180Xy6eLWu4 ----------------------------------------------------------------------------------------------------------- Follow This Links Hindi Digital Marketing Blog:- http://www.nitishverma.com/ Hindi Tech Blog:- http://www.technicalmitra.com/ Podcast: https://anchor.fm/nitishverma Facebook- https://www.facebook.com/imnitishverma Twitter- https://twitter.com/imnitishverma Instagram- http://www.instagram.com/imnitishverma LinkedIn-  https://www.linkedin.com/in/imnitishverma/ ----------------------------------------------------------------------------------------------------------- About Me :- Welcome to NITISH VERMA Podcast. We are The Best Freelance Web Design and Digital Marketing Team from Bihar India. NITISHVERMA.COM is the destinations for all your web related jobs. We are freelance web designer, Digital Marketing, Social Media Marketing and search engine optimization . For Latest Tech Tips and in Hindi Visit my Blog Technical Mitra.
05:05
September 21, 2019
Augmented Reality Kya Hai?
ऑगमेंटेड रियलिटी का मतलब? (augmented reality meaning in hindi) ऑगमेंटेड रियलिटी क्या है? (augmented reality definition in hindi) ----------------------------------------------------------------------------------------------------------- Follow This Links Hindi Digital Marketing Blog:- http://www.nitishverma.com/ Hindi Tech Blog:- http://www.technicalmitra.com/ Podcast: https://anchor.fm/nitishverma Facebook- https://www.facebook.com/imnitishverma Twitter- https://twitter.com/imnitishverma Instagram- http://www.instagram.com/imnitishverma LinkedIn-  https://www.linkedin.com/in/imnitishverma/ ----------------------------------------------------------------------------------------------------------- About Me :- Welcome to NITISH VERMA Podcast. We are The Best Freelance Web Design and Digital Marketing Team from Bihar India. NITISHVERMA.COM is the destinations for all your web related jobs. We are freelance web designer, Digital Marketing, Social Media Marketing and search engine optimization . For Latest Tech Tips and in Hindi Visit my Blog Technical Mitra.
08:53
August 30, 2019
6 Great Tips to Engage Your Audience On Instagram [2019]
Hum Instagram ke Vishal Prashanshak hain. Iski ek acchi Wajah ye bhi hai Ki Instagram par 300 Million se adhik active Users hain. Jo aapke Blog aur Business ke Best Application hai. Isliye aaj Ke Post me Hum aapko Batane jaa rahe hain Instagram Par Audience Engaged Karne Ke 6 Tips to Bane rahiye Humare Post ke saath. Post Link: https://www.nitishverma.com/instagram-par-audience-engaged-karne-ke-6-tips/ ----------------------------------------------------------------------------------------------------------- Follow This Links Hindi Digital Marketing Blog:- http://www.nitishverma.com/ Hindi Tech Blog:- http://www.technicalmitra.com/ Podcast: https://anchor.fm/nitishverma Facebook- https://www.facebook.com/imnitishverma Twitter- https://twitter.com/imnitishverma Instagram- http://www.instagram.com/imnitishverma LinkedIn-  https://www.linkedin.com/in/imnitishverma/ ----------------------------------------------------------------------------------------------------------- About Me :- Welcome to NITISH VERMA Podcast. We are The Best Freelance Web Design and Digital Marketing Team from Bihar India. NITISHVERMA.COM is the destinations for all your web related jobs. We are freelance web designer, Digital Marketing, Social Media Marketing and search engine optimization . For Latest Tech Tips and in Hindi Visit my Blog Technical Mitra.
09:12
August 30, 2019
Aadhar Virtual ID Kya Hai?
Virtual Id aadhar number ki trah hi number ka ek group hoga. Aadhar Number janha 12 Digits ka hota hai wanhi, Virtual Id 16 digits ki hogi. Aadhar Virtual Id 16 digit ki aisi id hogi jisme user ke Biometrics ke saath Naam, Photo, Address ke saath limited details honge jo kisi bhi aadhar authentication ke liye paryaapt honge. Post Link: Aadhar Virtual ID Kya Hai?
05:31
August 28, 2019
UPI (Unified Payment Interface) Kya Hai? UPI कैसे काम करता है ?
ऑनलाइन पेमेंट ट्रांसफर करते समय UPI payment के बारे में आपने कहीं ना कहीं जरुर पढ़ा होगा। आप में सें कई लोग इस सुविधा का लाभ भी ले रहे होंगे। दरअसल में Cashless economy की स्थापना करने के लिए भारत सरकार ने UPI payment की शुरुआत की थी। Online transaction को बढावा देने और देशको Digital India की तरफ अग्रसर करने के लिए यह सुविधा दी गई है। Post Link: UPI Kya Hai? UPI कैसे काम करता है ?
05:21
August 28, 2019
IRCTC iMUDRA Wallet Kya Hai?
  Passengers ko behtar service dene ke liye Indian Railway barabar kisi na kisi service ko launch karta rehta hai. Indian Railway Catering and Tourism Corporation (irctc) ki ek aisi hi khaas service hai jo “IRCTC iMudra” ke naam se launch ki hai. Iske Tehat aapko ATM se paiso ke transaction sahi kai benifits milte hain. To aaiye jaante hain. Irctc iMudra ke baare me.  Ish Podcast me aap sunenge. IRCTC IMUDRA KYA HAI? IRCTC IMUDRA WALLET KE FEATURES:  IMUDRA WALLET KE BENIFITS:  Post Link:  Irctc iMudra Wallet Blog Post Video Link: Irctc iMudra Youtube Video 
06:37
August 10, 2019
Whatsapp Ko Landline Number Se Kaise Connect Karein?
Whatsapp Ko Landline Number Se Kaise Connect Karein?  Ye Podcast Hindi Me Hai. Kya aapko pata hai ab aap apne whatsapp number ko landline se bhi connect kar sakte hain. Agar aap ek business owner hain, aur apna personal number business ke liye use nahi karna chahte to aap apne landline number ka use apne whatsapp ke liye kar sakte hain. Ish podcast me aap sunenge, Ki kaise apne Whatsapp number ko landline se connect karte hain.   कई बार ऐसा होता है कि बिजनेसमैन अपने निजी मोबाइल नंबर को ही बिज़नेस के लिए ही इस्तेमाल करते हैं। यह सुविधा मिलने के बाद उन बिजनेसमैन ने चैन की सांस ली होगी जो व्यवसाय के लिए किसी मोबाइल नंबर की जगह लैंडलाइन इस्तेमाल करना पसंद करते हैं। यानी अब आप अपने लैंडलाइन नंबर को सीधे WhatsApp Business ऐप से जोड़ सकते हैं। लैंडलाइन नंबर से WhatsApp इस्तेमाल करने का तरीका  Post Link: Whatsapp Ko Landline Se Connect Kaise Karein? Video Link: Whatsapp Ko Landline Se Connect Kaise Karein? |NITISH VERMA
11:02
August 07, 2019